चना खाने का सही तरीका | चना खाने के फायदे

दोस्तों शाकाहारी खाने में चन्ना को एक बहुत ही पौस्टिक आहार माना जाता है! और ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें प्रोटीन की अच्छी खासी मात्रा होने के साथ-साथ कई दूसरे जरूरी नूट्रियन भी काफी मात्रा मौजूद होते हैं लेकिन ये भी समझना जरूरी है कि किसी भी खाने का पूरा फायदा शरीर को मिलने के लिए उस खाने के फायदे और नुकसान पता होने के साथ-साथ उसे खाने का सही समय और सही तरीके का भी पता होना कभी जरूरी होता है

चना खाने का सही तरीका | चना खाने के फायदे

इसलिए आज की इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि चना खाने के क्या-क्या फायदे और क्या-क्या नुकसान होते हैं 1 दिन में कम से कम और ज्यादा से ज्यादा कितना चना खाना चाहिए इसे खाने का सही समय क्या है यानी सुबह दोपहर शाम पानी में भिगोकर कच्चा अंकुरित करके या फिर पक्का के खाना चाहिए और वजन बढ़ाने या घटाने वाले लोगों को चन्ना को अपने खाने में किस तरह शामिल करना चाहिए!

दूध पीने का सही समय | सही तरीका | दूध पीने के अद्भुत फायदे

शुरु करते है चन्ना खाने के क्या-क्या फायदे और क्या क्या नुकसान होते हैं दोस्तों चने में कार्बोहायड्रेट और प्रोटीन की सबसे ज़्यादा मात्रा होती है और साथ ही इसमें विटामिन B9 यानी फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, पोटेशियम, कॉपर जिंक और दूसरे कई तरीके के विटामिन्स और मिनरल्स काफी मात्रा में मौजूद होते हैं लेकिन सबसे अच्छी बात यह है चने में फाइबर की भी अच्छी खासी मात्रा होती है

जो कि कार्बोहाइड्रेट को रेगुलेट करने के साथ-साथ कब्ज को दूर करने और पाचन को बेहतर बनाने में भी बहुत मदद करता है क्योंकि किसी भी व्यक्ति में कब्ज़ होने का सबसे बड़ा कारण होता है खाने में फाइबर की कमी, और यह चने में बहुत ही सही मात्रा में मौजूद होता है

शरीर में जमे सभी विषैले पदार्थों को तेजी से बाहर निकालें

ये त्वचा और बाल के लिए अच्छा तो होता ही है साथ ही शरीर में कोलेस्ट्रॉल घटाने और ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में बहुत मदद करता है साथ ही इसमें जो हाई क्वालिटी प्रोटीन होता है व् वजन बढ़ाने और घटाने दोनों में ही बहुत मदद करता है!

लेकिन उसके लिए जरुरी है की इसका सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए, जो की हम जानेंगे इसी वीडियो में, अब बात आती है की चना कच्चा, पका हुआ यह फिर अंकुरित करके खाना चाहिए, दोस्तों ये बात जानना जरूरी है कि चना को हर अलग अलग तरीके से खाने से उसके फायदे भी अलग-अलग होते हैं और कुछ सिचुएशन में सही जानकारी ना होने की वजह से यह शरीर का नुकसान भी पहुंचा सकता है दोस्तों पानी में भीगे हुए कच्चे चने में पोषक तत्वों की मात्रा तो ज्यादा होती ही है लेकिन यह पचने में भी थोड़ा भारी होता है

Body बनाने के लिए Exercise से पहले और बाद में क्या खाना चाहिए

क्योंकि कच्चे चने में मौजूद फाइबर को तोड़ने में हमारे पाचन तंत्र को बहुत मेहनत करनी पड़ती है इसलिए अगर आप कच्चे चने का सेवन करते है तो हमेशा उसके अच्छे से चबा के खाये और इसका थोड़ी मात्रा में ही सेवन करें!

जबकि अंकुरित चने को खाने से उसके फायदे और भी ज़्यादा बढ़ जाते है क्युकी अकनूरित चने में एंजाइम, प्रोटीन, विटामिंस, मिनरल्स, फाइबर की मात्रा काफी हदतक बढ़ जाती है और यह समझने वाली बात यह भी है कि वैसे भी चना कंपलीट सोर्स ऑफ प्रोटीन फूड नहीं माना जाता क्योंकि इसमें मेथुइन नामक एक एमिनो सीन होता है!

लेकिन चना अंकुरित होने के बाद इसमें पूरे अमीनोसिन की पूर्ति हो जाती है और यह एक कंपलीट प्रोटीन फूड बन जाता है लेकिन इस बात का भी ख्याल रखना जरूरी है की अंकुरित चने के इतने सारे फायदा होने के बावजूद इसमें एक कमी भी पाई जाती है जो कि है इसमें पाए जाने वाला बैक्टीरिया!

हाइट कैसे बढ़ाये ?

भीगे हुए चने को अंकुरित होने के लिए लम्बे समय तक भिगोना पड़ता है जिसकी वजह से इसके अंदर कुछ बैक्टीरिया ग्रो होने के चान्सेस बहुत ज्यादा बढ़ जाते हैं और यही वजह है कि बच्चे बूढ़े और गर्भवती महिलाओं को अंकुरित चन्ना कच्चा यानी के बिना उबाले हुए इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्युकी इन लोगों की इम्युनिटी पावर कमजोर होती है जिससे कि कच्चे अंकुरित चने में मौजूद बैक्टीरिया शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकता है!

जबकि चने को उबाल कर या थोड़ा पकाने से उसमे विटामिन्स और मिनरल्स की मात्रा में थोड़ी कमी तो आती है लेकिन ये खाने में सबसे ज़्यादा सेफ और पचने में ज्यादा आसान हो जाता है जिस से की इसका हर कोई इस्तेमाल कर सकता है !


अब बात आती है कि चना कब खाना चाहिए यानी इसे खाने का सही समय क्या है!

दोस्तों पक्के हुए चने का दिनभर में कभी भी इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन ज़्यादा बेहतर ये है की इसका सुबह के नाश्ते में इस्तेमाल किया जाए, जबकि पानी में भीगे हुए चने यानी कच्चे चने का हमेशा खाली पेट सुबह इस्तेमाल करना चाहिए, और इसे खाने के बाद दूसरा कुछ भी खाने के लिए कम से कम 1 से डेढ़ घंटे का गैप जरूर रखना चाहिए ताकि चना के खाने का पूरा फायदा शरीर को मिल सके!

अब बात आती है कि कितना चन्ना खाना चाहिए, 1 दिन में कितना चन्ना खाना खाना चाहिए यह उस व्यक्ति के पाचन और उसके फिजिकल एक्टिविटीज पर निर्भर करता है लेकिन फिर भी पहले बात तो ये की पानी में भीगे हुए चने का इस्तेमाल करते हैं!


तो आपको इसका एक या दो मुट्ठी से ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए और इसे खाते समय बहुत ही अच्छे से चबाकर खाना चाहिए क्युकी पानी में भीगा हुआ चना थोड़ा भारी होता है जिस से की इसका ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल करने से गैस और अपचन जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है!

जबकि इसे उबाल कर या फिर किसी भी तरह पक्का के खाने से 50 से 60 gm चने का कोई भी इस्तमाल कर सकता है और जो लोग gym में एक्सरसाइज करते हैं व् अपनी जरूरत के हिसाब से 100 या 150 ग्राम तक भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन यहां भी एक बात का ख्याल रखना जरूरी है कि आप एक ही बार में सौ से डेढ़ सौ ग्राम चन्ना का इस्तेमाल ना करें बल्कि थोड़ा-थोड़ा करके दो से तीन बार में इसका इस्तेमाल करें


अब बात आती है की वजन घटाने और बढ़ाने वाले लोगों को चने को अपने खाने में किस तरह से शामिल करना चाहिए दोस्तों चने में प्रोटीन की अच्छी खासी मात्रा होने की वजह से ये शरीर में घोस्ट की मात्रा को बढ़ाने और बड़ी हुई चर्बी को कम करने में भी मदद करता है साथ ही इसमें कार्बोहायड्रेट के साथ फाइबर मौजूद होने की वजह से यह एक लोग लाइन फ़ूड की श्रेणी में आता है और जो की बहुत ही अच्छी बात है क्युकी ये शरीर में धीरे-धीरे चर्बी की मात्रा बढ़ने से रोकता है!

अगर आप वजन घटाने की डाइट फॉलो कर रहे हैं बेहतर है 20 से 25 gm चने को पानी में डालकर रातभर फूलने के लिए झोड़ दे और सुबह उठकर उसे अच्छे से चबाकर खाएं क्युकी कच्चे चने में पोषक तत्वों की मात्रा ज्यादा होती ही है साथ ही यह शरीर में धीरे-धीरे पचने की वजह से भूक को भी कंट्रोल में रखता है!

जिससे कि वजन घटाने में मदद मिलती है और अगर आपको कच्चा चना ठीक से नहीं पचता हो या फिर गैस की प्रॉब्लम होती है तो बेहतर है कि चने को उबालकर खाएं साथ ही आप चने को कच्चा खाये या उबालकर उसके टेस्ट को इन्हैंस करने के लिए आप उसमें प्याज टमाटर धनिया पत्ता हरी मिर्च नींबू का रस और चुटकी भर नमक का इस्तेमाल कर सकते हैं!

क्युकी ऐसा करने से टेस्ट तो बेहतर होता ही है साथ ही इसमें पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है इसके अलावा अगर आप चाहे तो थोड़े से भुने हुए चने का शाम को स्नेक्स के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं

और अगर आप वजन बढ़ाने की डाइट फॉलो कर रहे हैं तो चने को हमेशा पका कर ही खाएं, ताकि ये शरीर में जल्दी पच सकें और इसके लिए रात भर पानी में भिगाये गए 50 ग्राम चने को सुबह के नाश्ते में हल्के से नमक मिर्च डालकर उबालकर इस्तेमाल करें, दोपहर में 25 से 30 ग्राम भुने हुए चने का थोड़े से गुड़ के साथ इस्तेमाल करना चाहिए और इतना ही भुना हुआ चना शाम के वक्त गुड़ के साथ भी इस्तेमाल किया जा सकता है

हालांकि वजन बढ़ाने या घटाने में अकेला चन्ना कुछ नहीं कर सकता क्युकी ये पूरी तरह से किसी भी व्यक्ति के पूरे दिन खाए जाने वाले खाने और लाइफस्टाइल पर डिपेंड करता है !

तो बस आज के लिए इतना ही अगर आर्टिकल पसंद आया हो तो शेयर करें!

0/Post a Comment/Comments

Please do not enter any spam link in the comment box.